सोमवार, 22 अक्तूबर 2018

कुहू

मुद्दतों पहले की बात है जबकि कोयल / कोकिला अपने ही गीतों, अपने ही सुरों को बेहद पसंद करती थी और अक्सर दूसरे परिंदों से पूछती रहती कि कौन सी चिड़िया सबसे मधुर स्वर में गाती है ? दुर्भाग्यवश कोई भी परिंदा, मधुर स्वर में गाने वाले परिंदों का नाम लेते हुए, कोयल का नाम नहीं लेता था, सो कोयल ने सोचा कि शायद, सारे परिंदे उसका नाम भूल गए हैं ! इसलिए उसने तय किया कि वो उन सभी परिंदों को अपना नाम याद दिलाएगी ! कहते हैं कि तब से लेकर आज तक, वो बार बार सिर्फ अपना ही नाम लेती है कुहू...कुहू...कुहू...